Gemini Horoscope Yearly 2015

Gemini (मिथुन) Horoscope

मिथुन- का, की, कू, घ, ड., छ, के, को, ह

Gemini (मिथुन) राशि के लिए शुभ

मिथुन राशि के लिए शनि, बुध, शुक्र, शुभ ग्रह है,
मिथुन राशि के लिए मिथुन, कुम्भ और तुला शुभ राशि है,
मिथुन राशि के लिए आसमानी, हरा, नीला, सफेद, शुभ रंग है,
मिथुन राशि के लिए , शनिवार , बुधवार, और शुक्रवार शुभ वार है,
मिथुन राशि के लिए 1, 5 एवं 6 , 8, शुभ अंक है,
मिथुन राशि का स्वामी बुध है, पन्ना शुभ रत्न है, हीरा भी पहन सकते है,
मिथुन राशि के लिए देव कुबेर, माँ दुर्गा, गणेश , एवं श्री भैरव शुभ देवता है,
मिथुन राशि के लिए बुधवार का दिन और तिथि चतुर्थी का व्रत शुभ है,
मिथुन राशि के लिए चारमुखी, छहमुखी एवं सातमुखी शुभ रूद्राक्ष है,

Gemini (मिथुन) Yearly horoscope 2017

जनवरी :- राशि स्वामी बुध आठवे भाव में भोम युक्त है, व्यापार में अत्यधिक मेहनत करनी पड़ेगी, आय की तुलना में खर्च अधिक होंगे,  स्वास्थ्य में परेशानी का डर रहेगा, किसी निकट व्यक्ति से मतभेद होने के योग, ५ जनवरी से हालत में सुधार होगा,  मकर सक्रांति को गरम कपड़ा और तिल दान करना शुभ होगा,

फरवरी  :-  महीने के प्रारम्भ से ही राशि स्वामी बुध आठवे भाव में है,  व्यापार और काम काज में विघ्न  , बाधाओ  का सामना करना पड़ेगा, अचानक  खर्च भी बढ़ेंगे, जिससे मानसिक तनाव और पारिवारिक परेशानी बढ़ेगी, स्वास्थ्य में भी परेशानी रहे, श्री हनुमान चालिषा का पाठ करना लाभदायक रहेगा ,

मार्च:- महीने के प्रारम्भ में राशि का स्वामी बुध आठवे स्थान होने के कारण काम और व्यापर में अड़चने और देरी हो सकती है, स्वास्थ्य में भी परेशानी हो सकती है, 9 मार्च को बुध नौवे तथा  भाग्य  स्थान पर संचार करेगा, जिससे परिस्थितिया सुधरेगी , धन लाभ मिलेंगे, और उन्नति के अवसर प्राप्त होंगे,  सेहत में भी कुछ सुधार होगा,

अप्रैल :- राशि स्वामी बुध नीच राशिगत होने से बेकार की  भाग दौड़ होगी,  और अत्यधिक धन  खर्च होगा,  विदेश संबंधित कार्यो में कुछ प्रगति होगी , किन्तु कुछ रुकावटों के बाद  ही सफलता मिलेगी, 12 अप्रैल के बाद कुछ बिगड़े काम बनेगे, और धन लाभ में बढ़ोतरी होगी, महीने के अंत में मानसिक तनाव , सर दर्द व् आर्धिक परेशानिया रहेगी, सूर्यराधना करना लाभदायक  होगा,

मई :- महीने के शुरुआत से राशि स्वामी बुध और मंगल बारवे भाव में और शुक्र इस राशि में संचार करेगा, व्यापार, काम काज सम्बन्धी कामो में भाग दौड़ अधिक  रहेगी, धन खर्च में भी अधिकता रहेगी,  वाहन और मनोरंजन कार्य में पैसा अधिक खर्च होगा, किसी प्रियबंधु से मेलजोल बढ़ेगा,  इस महीने की 9, 13, 17, 24, और 29, तारीख अशुभ रहेगी,

जून :- मास के शुरुआत  में राशि का स्वामी बुध बारवे में सूर्य, मंगल, के साथ है,बेकार  की भाग दौड़ अधिक होगी, और अनावस्यक  खर्चा अधिक होगा, कुछ बिगड़े काम बनने के योग है, पुराने किये गए प्रयासों में सफलता मिलेगी, घर में कोई मंगलकार्य भी आयोजित होंगे, महीने के अंत में कुछ पारिवारिक उलझनों के कारण मन विचलित रहेगा, खर्च भी बहुत अधिक होगा, बुधवार को  व्रत रखना लाभदायक होगा,

जुलाई :- महीने के शुरुआत में इस राशि पर सूर्य , मंगल ग्रहो का संचार है,  5 जुलाई से बुध भी इस राशि पर संचार करेगा,  अत्यधिक मेहनत के बाद ही जीवन यापन योग्य आय के साधन बनेगे, अचानक धन खर्च भी अधिक होंगे, क्रोध  के कारण बनते कामो में रुकावट आएगी, महीने के अंत में कुछ लाभ के अवसर मिल सकते है,

अगस्त :- राशि स्वामी बुध तीसरे भाव में गुरु, शुक्र , ग्रहो के साथ है, इस महीने अत्यधिक मेहनत होगी,  और भाग दौड़  अधिक रहेगी, फिर भी जीवन यापन  योग्य धन की प्राप्ति ही होगी, व्यापार   में कई तरह के उतार चढ़ाव आएंगे, व् अन्य परेशानी का सामना करना पड़ेगा, अचानक धन  खर्च होने के योग है, महीने के अंत में आर्थिक उन्नति के योग है, किसी उच्चाधिकारी के साथ अच्छे सम्बन्ध बनेगे,

सिंतबर :-इस महीने मिले जुले फल मिलेंगे, 10 सितम्बर तक मानसिक तनाव और पारिवारिक उलझनों के कारण मानसिक चिंताए ज्यादा रहेगी, बनते कामो में अड़चने  पैदा होगी, महीने के अंत में कुछ बिगड़े कामो में सुधार होगा, किसी शुभ कार्य में  पैसा खर्च होगा, किन्तु स्वास्थ्य में परेसानी होने के योग है,

अक्टूबर :- इस महीने कभी लाभ , कभी हानि के योग होंगे, पुराने किये गए प्रयासों में किसी विशेष कार्य में सफलता मिलेगी, विदेश सम्बन्धी कामो में रुकावट का सामना करना पड़ेगा, 17 अक्टूबर के बाद किसी नए काम में पैसा खर्च होने  के योग है, स्वास्थ्य कुछ परेशान करेगा, कार्तिक माहात्म्य का पाठ करना लाभदायक  होगा,

नवम्बर:- महीने के शुरू  में राशि का स्वामी बुध पांचवे  भाव में सूर्य के साथ संचार  कर रहा है आय  कम और मेहनत अधिक होगी , व्यापार  में भाग दौड़ अधिक होगी, और स्वास्थ्य में परेशानी के योग है, जमीन जायदाद सम्बन्धी समस्याएं उत्पन्न होने के योग है,  कार्तिक महात्मय का पाठ करना लाभ दायक रहेगा,

दिसम्बर :- बुध की अच्छी  दृष्टि पड़ने से पराक्रम और उत्साह में अधिकता होगी, परिवार में शुभ कामो में पैसा खर्च होगा, आय के साधनो में अधिकता होगी, किसी उच्चाधिकारी की सहायता से उन्नति के अवसर मिल सकते है, किन्तु स्वास्थ्य कुछ परेशान करने के योग है,