Pisces (मीन) Horoscope

Pisces (मीन) Horoscope

मीन- दी, दू, थ, झ, ज, दे, दो, चा, ची

Pisces (मीन) राशि के लिए शुभ

मीन राशि के लिए मंगल ,गुरू और सूर्य,शुभ ग्रह है
मीन राशि के लिए मेष, वृश्चिक, धनु, सिंह और मीन शुभ राशि है
मीन राशि के लिए बैंगनी, सफेद, मेहरून, पीला, गुलाबी शुभ रंग है
मीन राशि के लिए रविवार, मंगलवार, गुरूवार शुभ वार है
मीन राशि के लिए 1, 2, 3, 6 एवं 9 अंक शुभ है,
मीन राशि का स्वामी बृहस्पति है, पुखराज,मूंगा शुभ रत्न है, मोती, भी पहन सकते है
मीन राशि के लिए भगवान शंकर, कार्तिकेय, विष्णु शुभ देवता है
मीन राशि के लिए गुरूवार का दिन और तिथि एकादशी का व्रत शुभ है
मीन राशि के लिए दोमुखी रूद्राक्ष, पंचमुखी रूद्राक्ष शुभ रूद्राक्ष है

Pisces (मीन) Yearly horoscope 2017

जनवरी  : – गुरु की दृष्टि के कारण इस राशि वालो को इस महीने धन लाभ के अवसर मिलेंगे, पुरानी सोची हुई योजनाओ को सफल करने के अवसर प्राप्त होंगे,  धर्म कर्म में आस्था बढ़ेगी, शनि भाग्य स्थान में आने के कारण कुछ बाधा आने के योग है, खर्चे भी बहुत अधिक मात्रा में होंगे, कुछ गुप्त परेशानी भी रहेगी,

फरवरी  :-    महीने के शुरू में केतु चल रहा है, लेकिन इस राशि पर गुरु की भी दृष्टि पड रही  है, जिससे बिगड़े कामो में सुधार होगा,  आय के साधन बनेंगे, व्यापार में उन्नति के अवसर मिलेंगे, किन्तु केतु के कारण स्वास्थ्य में अत्यधिक परेशानी और बहुत अधिक खर्चा होने के योग है, श्री दुर्गासप्तसती का पाठ करना शुभ और लाभदायक रहेगा,

मार्च :-    महीने के शुरुआत के समय में बहुत अधिक मेहनत करने के बाद धन लाभ होगा, ज्यादातर समय बेकार के कामो में बीतेगा, पेट में और आँखों में कुछ परेशानी का डर रहेगा, महीने के अंत में नए दोस्तों से मुलाकात होगी , जिससे उन्नति के मार्ग मिल सकते है, पहले के किये गए प्रयासो में सफलता मिलने के योग है, पढ़ाई में सफलता मिलेगी,

अप्रैल :-    किसी दोस्त या रिस्तेदार की मदद से कुछ बिगड़े काम सुधरेंगे , गुजारे मात्र धन लाभ के अवसर प्राप्त होंगे, व्यापारिक और परिवार से सम्बंधित परेशानिया भी होगी, बेकार के वाद विवाद से दुरी बना के चले, पढ़ाई करने वालो बच्चो  को विशेष ध्यान देने की आवश्यकता रहेगी , इस राशि वालो को गायत्री  जप और सूर्य उपासना करना लाभदायक रहेगा,

मई :-   परिवार में शुभ और मंगलकारी काम किये जायेंगे क्यों की गुरु उच्च का है, पाचवे  स्थान में शुक्र होने से पुरानी सोची हुई योजनाओ में सफलता मिलेगी, लेकिन इस राशि पर केतु होने के कारण स्वास्थ्य में परेशानी बनी रहेगी, पारिवारिक परेशानी के कारण धन खर्च में अधिकता रहेगी,

जून :-  महीने के शुरू में केतु होने की वजह से बेकार की भाग दौड़ अधिक रहेगी, और व्यर्थ के खर्चे अधिक होंगे, कुछ बिगड़े कामो में सफलता प्राप्त होगी, गुरु की दृष्टि होने के कारण  कुछ पुराने किये गए कामो में सफलता मिलेगी, घर में शुभ कार्य होंगे, लेकिन कुछ पारिवारिक परेशानी के कारण मन में हलचल बनी रहेगी, धन खर्च अत्यधिक मात्रा में होगा,

जुलाई :-   एकाएक व्यापार नौकरी में उन्नति के अवसर प्राप्त होंगे, धन प्राप्ति के साधनो में बढ़ोतरी होगी, केतु के कारण सही लाभ प्राप्ति के अवसर नही मिलेंगे, अपने ही भाइयो से और मित्रो से कलह के योग बनेंगे, अधिक विवाद का डर रहेगा, सावधानी बरते,

अगस्त :- बनते कामो में बाधा उत्पन्न होगी क्यों की इस राशि पर केतु चल रहा है, जितनी अपेक्षा करेंगे उतनी सफलता नही मिलेगी , मानसिक तनाव बना रहेगा, 26 और 27 तारीख अच्छी नही होगी, कुछ विवादवाले मामलो के कारण मन अशांत रहेगा, किसी निकट रिस्तेदार से आपसी मन मुटाव हो सकता है, धन खर्च अधिक होने के योग है,

सिंतबर :-   इस राशि में मंगल पांचवे स्थान पर और बुध नीच का, और केतु चल रहा है, जिससे मिलाजुला असर होगा, जिससे तनाव का माहोल बना रहेगा, परेशानिया कम रहेगी, व्यापार में और परिवार में अनेक बाधा  आएगी, इसके बाद भी गुजारे योग्य धन लाभ प्राप्ति के साधन मिलते रहेंगे, खर्चो में अधिकता रहेगी, महिलाओ के स्वास्थ्य में परेशानी हो सकती है, महिलाये स्वास्थ्य का विषेश ध्यान रखे,

अक्टूबर :-    सूर्य बुध की दृष्टि पद रही है और केतु का संचार है, जिससे कभी लाभ कभी हानि के योग बनते है, धन लाभ होगा, लेकिन इससे अधिक मात्र में खर्चा भी होगा, परिवार और व्यापार को लेकर परेशानिया बनी रहेगी, 15 तरीका के बाद अचानक धन लाभ होगा, लेकिन मनोरंजन के कामो में पैसा खर्चा होगा, विदेश में रह रहे व्यक्तियों से सम्पर्क बढ़ेगा, श्री दुर्गासप्तसती का पाठ करना लाभदायक रहेगा,

नवम्बर :-   मासारम्भ में अनेक परेशानियों के बाद भी गुजारे मात्र धन लाभ के साधन बनते रहेंगे, घर में शुभ और मंगल कार्य होंगे, पारिवारिक कलह के कारण मन अशांत बना रहेगा, किसी भी काम को करने का मन नही करेगा , धन खर्च अधिक होगा, श्री दुर्गासप्तसती का पाठ करना लाभदायक रहेगा,

दिसम्बर :-  मंगल की सातवी दृष्टि होने से और केतु का संचार होने से अत्यधिक मेहनत , भागदौड़ करनी पड़ेगी, चिंता और बेकार के खर्चो में बढ़ोतरी होगी, किसी निजी रिस्तेदार से मन मुटाव होने के योग है, 16 तारीख के बाद कुछ रुके हुए कामो में सुधार होने के योग है, व्यापार में लाभ होगा, परिवार में सुखो में अधिकता होगी, कहि वाहनादि में  सफर  करने के भी योग है,